देश में आसमान छू रहा ईंधन का भाव !

देश में ईंधन की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। लागतार बढ़ रहा रेट थमने का नाम नहीं ले रहा, जिससे जनता काफी परेशान है। कच्चे तेल के दामों में जिस तरह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी देखने को मिल रही है,वैसे ही घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के दाम भी आसमान छू रहा है। भारत में ईंधन की कीमतें रिकॉर्ड स्तर पर है।

5 अक्टूबर 2021 यानी कि मंगलवार को 1 दिन की स्थिरता के बाद भारतीय तेल कंपनियों ने डीजल और पेट्रोल के रेट में इजाफा कर दिया है। बात करें पेट्रोल की तो 25 पैसे प्रति लीटर एवं डीजल 30 पैसे प्रति लीटर और अधिक महंगा हुआ है। वहीं अक्टूबर में हरदिन भाव बढ़ता रहा है। अब तक केवल 1 दिन डीजल और पेट्रोल का रेट स्थिर रहा है।

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के मुताबिक़, ईंधन के दामों में वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 102.64 रुपए प्रति लीटर एवं डीजल 91.07 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया है। हालांकि,देश के चारों महानगरों की तुलना करें तो मुंबई में डीजल-पेट्रोल सबसे अधिक महंगा है। बता दें, जुलाई एवं अगस्त के महीने में कच्चे तेल के दामों में कुछ खास बदलाव नहीं आया था। इसलिए 18 जुलाई से 23 सितंबर तक तेल कंपनियों ने मूल्य वृद्धि नहीं की थी। इस दौरान पेट्रोल 0.65 और डीजल 1.25 की कीमतों में कटौती की गई थी। फिर अंतर्राष्ट्रीय बाजार में निरंतर बढ़ती कीमतों के कारण 28 सितंबर से पेट्रोल और 24 सितंबर से डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल और डीजल की कीमत क्रूड की कीमत के आधार पर प्रतिदिन अपडेट होती है। कीमतों की समीक्षा करने के बाद ऑयल मार्केटिंग कंपनियां रोज डीजल और पेट्रोल के दाम निर्धारित करती है।

अनन्या कौशल द्वारा संपादित।